त्याग मूर्ति स्वामी श्री गणेशानन्द पुरी जी महाराज

स्वामी श्री विश्वात्मानन्द पुरी जी महाराज

साधना सदन वेबसाइट में आप का स्वागत है

साधना साधन आश्रम, शंकराचार्य चौक के समीप राजमार्ग-58(रूडकी-हरिद्वार मार्ग) पर हर की पौड़ी से सिर्फ एक मील दूर हरिद्वार कनखल में गंगा नदी के तट पर स्थित है।

आश्रम त्यागमूर्ति स्वामी श्री गणेशानंद पूरी जी महाराज द्वारा स्थापित किया गया था।

आश्रम का आस पास के कनखल क्षेत्र में व्यापक प्रसार है| आश्रम की अपनी गौशाला और कई बगीचे हैं।

साधना सदन आश्रम आदि गुरू शंकराचार्य की शिक्षाओं के आधार पर स्थापित किया गया और वेदांत के प्रसार के लिये समर्पित है| आश्रम का मूल उद्देश्य प्राचीन हिंदू वेदों और उपनिषदों के आधार पर वेदांत को सिखाने और पदाने का है।

  • ॐ सर्वे भवन्तु सुखिन: सर्वे सन्तु निरामया: । सर्वे भद्राणि पश्यन्तु मा कश्चिद् दु:ख भाग्भवेत् ।।
  • तत्त्वमसि (सामवेद:)
  • अहम् ब्रह्मास्मि (यजुर्वेद:)
  • प्रज्ञानं ब्रह्म (ऋग्वेद:)
  • अयमातमा ब्रह्म (अथर्ववेद:)